काश ज़िंदगी इस तरह बदली ना होती

काश ज़िंदगी इस तरह बदली ना होती

काश ज़िंदगी इस तरह बदली ना होती मुझे तुम्हारी ज़रूरत है. प्लीज़ मुझसे डोर मत जाओ. यह वो कुछ लाब्ज़ है जो उसने मुझसे लास्ट टाइम फेस तो फेस कहे थे. प्यार बहुत था. यह हमरी लास्ट मीटिंग थी. हम

Read More

और बतो ही बतो में प्यार हो गया

और बतो ही बतो में प्यार हो गया घर की फाइनान्षियल कंडीशन की वजह से मुझे पड़ाई छोड़ देनी पड़ी,,हलकी मैं भी पंडा चाहती थी, कुछ बड़ा क्रना चाहती थी अपने मा पापा के लिए पर!! मैं गुजराती फॅमिली से

Read More

मेने प्यार करना नही छोड़ा, सिर्फ़ जताता नही हू अब

मेने प्यार करना नही छोड़ा, सिर्फ़ जताता नही हू अब कहते हैं किसी चीज़ को दिल से चाहो तो वो तुम्हे मिल जाती है. मेरी कहानी की शुरुआत भी कुछ ऐसे ही हुई. मैं लंडन मे पार्ट टाइम जॉब करता

Read More

मुझे अपनी जान से ज़्यादा चाहने वाली ना जाने अब कहा खो गयी

मुझे अपनी जान से ज़्यादा चाहने वाली ना जाने अब कहा खो गयी हेलो मेरा नाम शाहिद ह ओर मैं मुरादाबाद का रहने वाला हू. ये स्टोरी 2009 की है. हमारा कपड़ो का कारोबार था. मैं एक खुशमिजाज लड़का था.

Read More

प्यार का एहसास

प्यार का एहसास हेलो दोस्तो, केसे हो आप लोग? आज मैं आप सभी के साथ अपने दिल की बात शेर करने जा रही हू. अपने प्यार के बारे में ब्ताने जा रही हू. यह बात है तकरीबन 6 महीने पहले

Read More

वो मुझे प्यार ना करने की वजह दे गयी

वो मुझे प्यार ना करने की वजह दे गयी हेलो दोस्तो, आज मैं आपको अपनी ज़िंदगी के पहले प्यार के बारे में बताने जर आहा हू. उम्म तो हाँ यह कहानी स्टार्ट हुई थी फ़ेसबुक की छत से. मैं अभी

Read More

वो एक लड़की

मैं 12त्कलशस में था. मैं पड़ने में एक अछा स्टूडेंट था. सिर्फ़ पड़ाई में ही नही सभी चीज़ में, चाहे वो डॅन्स कॉंपिटेशन हो, स्पोर्ट्स कंपेटैटन हो, सब में नंबर वन टाइप्स पर फिर भी मेरे दोस्त नि थे, भोथ

Read More

प्यार तो था पर शायद वक़्त कम पड़ गया

प्यार तो था पर शायद वक़्त कम पड़ गया पहला प्यार! कितना अछा ल्गता है ना यह दो शभद सुनने में? काश पहला प्यार सबको मिल भी जाता..काश मेरा पहला प्यार मेरा हो पता…. हेलो फ्रेंड्स टुडे ई आम गोयिंग

Read More

दोस्ती तोड़ना आसान नही होता

दोस्ती तोड़ना आसान नही होता हमारे फ़्रेंड जो हमसे जुड़े रहते है नेट के ज़रिए तो डियर यहा कम्त मे कुछ फ़्रेंड एक डुआरे से नाराज़ हो जा रहे है ऐसा क्यो हो रहा है डियर एक बात सुनो… सोहिल

Read More

क्या कास्ट ही सब कुच्छ होती है ? प्यार कुच्छ नहीं?

क्या कास्ट ही सब कुच्छ होती है ? प्यार कुच्छ नहीं? मे क्रातिका सिंग..यह उस टाइम की बात है जब मई ब फर्स्ट एअर मई थी.मई भत हे बिंदास रहने वाली लाइफ को एंजाय करने वाली लड़की थी.हर दिन सब

Read More